Top 30 Panchatantra Short Stories In hindi with moral : Handpicked Best Stories Of 2021

Panchatantra Short Stories In hindi with moral जो हर एक छात्र,लेखक और ज्ञानी इंसान इन कहानियो की खोज करता है ,हमने इस लेख मैं कुछ ऐसी कहानियो को  डाला है, इन्हें पड़ने के बाद आप सामाजिक घटना तथा जीबन के कई सारे बातो को सोचने के लिए  मजबूर हो जायेंगे ,

ऐसी ही कुछ कहानियो को हमने इस संस्करण मैं आपके सामने प्रशतुथ किया है. हमे आशा है की आप इन् Panchatantra Short Stories In hindi with moral कहानियो को पड़ कर न ही सिर्फ ज्ञान ग्रहण करेंगे इसी के  साथ साथ इन कहानियो से मिली सीख को आप सामाजिक जीबन मैं भी उपोयोग मैं लाने मैं सक्षम हो पायेंगे.


Panchatantra Short Stories In Hindi With Moral


Panchatantra Short Stories In Hindi With Moral
Panchatantra Short Stories In Hindi With Moral

  • Kids Story In Hindi –  खयाली पुलाव 

किसी गांव में राम नाम का एक लड़का रहता था उसका परिवार बहत ही गरीब था उसके माता पिता अंडे बेचने का कारोबार करते थे

और उसी अंडे बेचकर वे अपने घर चलाते, एक दिन किसी कारण राम के माता पिता को अपने किसी रिश्तेदार बीमार होने की वजह से देखने जाना पड़ा

राम के माता पिता ने उसको घर का काम और अंडे बेचने के लिए उसे घर में रख कर जाने के लिए उचित समझा

राम 13 साल का एक बालक था जिसे पैसों का सही इस्तेमाल और सही गलत का कोई ज्ञान नहीं था

राम ने अपने माता पिता के कहने पर घर पर ही रुख गया और अपने माता पिता के जाने के बाद वह अंडे बेचने निकाल पड़ा


कुछ दूर जाने के बाद एक दुकानदार ने उससे 10 अंडे खरीदे और उसे 10 सिक्के दिए

10अंडे के बदले में 10 सिक्के मिलने पर राम बहत खुश हुआ और वह और भी मन लगाकर अंडे बेचने लगा

और कुछ ही देर में राम ने आधे से भी ज्यादा अंडे बेच दिए और अंडे लेकर एक मेले के अंदर जाने लगा ।।

कमाई किए पैसों से राम अपने लिए खिलौने खरीद ने लगा और उसी खिलौना की वजह से अपने साथ लाए अंडे के बारे में भूल गया।


राम नए खिलौने को इतनी आसानी से खरीद ने में सफल होने के कारण वह बहत खुश होने लगा और सभी अंडे बेच कर और खिलौने खरीदने के बारे में सोचने लगा ।।

खयाल न होने के वजह से राम का पेर पत्थर में लगा और सभी अंडे गिरकर टूट गए और उसका खिलौने खरीद ने का सपना अधूरा ही रह गया।।


Moral of the story – 

कभी भी लालच मैं आकर अपने लक्ष्य से और कर्म करने से पीछे हटना नहीं चाहिए।।


RelatedTop 10 Moral Stories In Hindi


Panchatantra Stories In Hindi


panchatantra stories in hindi
Panchatantra Stories In Hindi

  • Panchatantra Stories In Hindi With Moral – नाई और दूधवाला

प्रीतमपुरा नाम के एक गाब मैं राजू नाम का एक नाई रहता था जो पुरे गाब मैं अपने द्वारा दिए सेवा की वजह से बहत ही जाना पहचाना था , राजू पुरे  गाब मैं लोगो के मसाज  और अछे तरह से बाल काटने की वजह से पूरा गाव मैं सबका प्रिय था||

राजू न ही सिर्फ मसाज और बाल काटता इसी के साथ वोह लोगो को अपने बातो से खुस कर देता था इसीलिए राजू जिससे जितना पारिश्रमिक मांगता लोग खुशी खुशी उसे उतना देते ||

गाब मैं  उसकी बात सभी मानते थे लेकिन घर मैं उसके पत्नी के सामने राजू एक नहीं चलती थी ,उसकी पत्नी घर को संभालती और राजू दुकान संभालता इसीलिए घर के किसी भी प्रकार के खर्चे के बारे उसे कुछ नहीं पता था,राजू घर खर्चे के लिए हरदिन अपनी पत्नी मीना को 100 रुपये देता था ||


Panchatantra Short Stories In hindi with moral

एकदिन शाम को राजू दुकान से लौट ने बाद अपनी पत्नी से पूछने लगा आज कितना खर्चा हुआ तभी मीना ने राजू को कहा –

मीना – ” सुनिए जी आपको को कल से 100 रुपये की जगह आपको 110 रुपये देना होगा  ”

राजू – ऐसा क्यों? तुम तोह प्रतिदिन मुझ से घर खर्चे के लिए 100 लेकर जाती थी , अभी ऐसा क्या हो गया ??

मीना – ” ऐसा होने की वजह दूध वाला है, जिसने अपने दूध का दाम 40 रुपये / littre बना दिया है, इसीलिए मुझे घर खर्चे मैं 10 रुपये ज्यादा लग रहे है ”


Panchatantra Short Stories In hindi with Moral

राजू अब से मीना को प्रतिदिन 110 रूपये देने लगा , एकदिन दो ग्राहक राजू के दुकान मैं बाल कटवाने के लिए आये वोह दोनों बहत परेशान थे जिसका कारण था भीमा नाम का  दूधवाला जो पुरे गाब मैं अपनी दूध को 40 रुपये प्रति लीटर के भाव मैं बेचता और दूध भी इतना अच नहीं देता था||

राजू ने तरकीब लगायी और दोनों ग्राहकों से कहा –

” आप दोनों कल से दूध बेचने लगे तोह कैसे रहेगा ??”

”पूरा गाब आपसे दूध खरीदेगा मैं पुरे गाब के लोगो को आपके बारे मैं बताऊंगा ”

”और आप भीमा दूधवाले से कम मैं दूध बेचना  ”

”जिससे लोग भीमा से दूध लेना बंद कर देंगे ”


Panchatantra Short Stories In hindi with Moral

राजू के परामर्श के अनुसार दोनों ने अगले ही दिन से गाब मैं दूध बेचना शुरू किया , एकदिन भीमा दूधवाला राजू के  दुकान मैं बाल काटने के लिए आया , और राजू ने बड़ी ही चालाकी से उससे पुरे गाब मैं कहा कितने लोगो को  दूध बहता है इसके बारे मैं पूछने लगा ||

भीमा ने कहा –

भीमा – ” मैं सभी घरो को मिलाकर 45 लिटर दूध बेचता हु जिसमे से मिठाई वाले मोहन काका को 10 लिटर देता हु ,20 राजा के पास देता हु और बाकि 30 लिटर दूध गाब मैं बेचता हु !!

राजू – 5 लिटर ज्यादा दूध कैसे बेचते ही जबकी तुमने खुद कहा तुम 45 लिटर ही बेच पाते हो?

 लोगो को समझ मैं आ गया की भीमा दूध वाला अपने द्वारा बेचे दूध मैं 5 लिटर पानी मिलाता है और दाम बड़ा कर बेचता है  , भीमा का सच जानने के बाद गाब के सभी लोगो ने उससे दूध लेना बंद कर दिया !!

और इसी तरह लालची भीमा दूधवाले को अपने लालच की सजा मिलती है ||


Panchatantra Short Stories In hindi with moral
Panchatantra Short Stories In hindi with moral

Moral of the storyलालच और लालची इंसान कभी भी सफल नहीं होते ,लालच से कुछ समय के लिए सफलता अर्जितकी जा सकती है , लेकिन  समय आने पर उतना ही अर्जित की हुयी सफलता हमे छोड़कर चली जाती है ||

 

>>Panchatantra Short Stories In hindi with moral<<

Related  Moral stories 


1 thought on “Top 30 Panchatantra Short Stories In hindi with moral : Handpicked Best Stories Of 2021”

Leave a Comment